‘आयत’ की कविता “दिल करता है के पानी की तरह बह जाऊं”

दिल करता है के पानी की तरह बह जाऊं, थोडी खुद में रहूँ थोड़ी तुझ में…

राजस्थान यूनिवर्सिटी के छात्रनेता मुकेश चौधरी के नाम खुला खत

माननीय मुकेश चौधरी जी, राजस्थान यूनिवर्सिटी से आप एनएसयूआई छात्र संगठन से 2019 के छात्रसंघ चुनाव…

“आयत” की कविता “ना चाहतों पे है काबू ना दिल पे है कोई ज़ोर”

उसकी ख़ामोशी की वो धुन मेरे अल्फाज़ का वो शोर ना चाहतों पे है काबू ना…

बिहार में शिक्षा का हाल बेहाल, कब होगी शिक्षकों की बहाली?

बिहार के विद्यालयों में शिक्षकों की कमी से किसी को इंकार नहीं है यहाँ तक कि…